सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

परिचय

“सफल उपचार के लिए सबसे महत्वपूर्ण है : मरीज़ के सही रोग की पहचान करना”

परिचय

डॉ. सुनील कुमार ने किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (के.जी.एम.यू.), लखनऊ, उत्तर प्रदेश (भारत) से बैचलर ऑफ़ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ़ सर्जरी (एम.बी.बी.एस.) का अध्ययन पूरा किया। उन्होंने गणेश शंकर विद्यार्थी मेमोरियल (जी.एस.वी.एम.) मेडिकल कॉलेज, कानपुर, उत्तर प्रदेश (भारत) से मेडिसिन विभाग में डॉक्टर ऑफ़ मेडिसीन (एम.डी.) की उपाधि प्राप्त किया। बाद में, वह गोविंद बल्लभ पंत (जी.बी. पंत) अस्पताल, दिल्ली (भारत) और मानव व्यवहार एवं संबद्ध विज्ञान संस्थान (इ.ह.बा.स.), दिल्ली (भारत) के न्यूरोलॉजी विभाग में सीनियर रेजिडेंट के पद पर अनुभव प्राप्त किया। उन्होंने सवाई मान सिंह (एस.एम.एस.) मेडिकल कॉलेज, जयपुर, राजस्थान (भारत) से न्यूरोलॉजी में डॉक्टरेट ऑफ मेडिसिन (डी.एम.) की उपाधि ग्रहण किया। वह इंडियन एकेडमी ऑफ न्यूरोलॉजी (आई.ए.एन.) एवं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आई.एम.ए.) के आजीवन सदस्य हैं।
डॉ. सुनील कुमार एक अनुभवी न्यूरोलॉजिस्ट हैं। वह विभिन्न प्रकार के सिरदर्द: जैसे की - माइग्रैन (अधकपारी), मिर्गी का दौरा, ब्रैन स्ट्रोक (पक्षाघात), भूलने की बीमारी: जैसे की - अल्जाइमर, अनिद्रा रोग, मस्तिष्क का संक्रमण, मांसपेशियों की बीमारी, मियासथीनिया ग्रेविस, न्यूरोपैथी (नसों की बीमारी), चक्कर आना, गर्दन और पीठ का दर्द इत्यादि तंत्रिका संबंधी रोग रोगों के इलाज में विशेषज्ञ है। उन्होंने सफलतापूर्वक ब्रैन स्ट्रोक के रोगी को थ्रोम्बोलिसिस के माध्यम से इलाज किया है। वह जटिल न्यूरोलॉजी मरीज़ों की देखभाल मे निपुण है।
वह इलेक्ट्रोएन्सेफलोग्राम (ई.ई.जी.), इलेक्ट्रोमोग्राफी (ई.एम.जी.), नर्व कंडक्शन स्टडी (एन.सी.एस.) और अन्य दिमाग संबंधी जांच में अच्छी तरह से पारंगत है। डॉ. सुनील कुमार ने विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चिकित्सा पत्रिकाओं (जर्नल्स) मे शोध पत्र के लेखक और सह-लेखक के रूप में योगदान दिया। उन्होंने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय शैक्षिक सम्मेलनों एवं संगोष्ठियों (सी.एम.ई.) में भाग लिया है। उन्होंने 2015, में श्री राम मूर्ति स्मारक इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (एस.आर.एम.एस. आई.एम.एस.), बरेली में न्यूरोलॉजिस्ट/सहायक प्रोफेसर के पद को ग्रहण किया।

"जहाँ कहीं भी चिकित्सा विज्ञान से प्रेम किया जाता है, वहां मानवता के लिए भी प्रेम होता है।"

“हमारे जीवन को नियंत्रित एवं व्यवस्थित रखने के लिए, हमें लक्ष्य निर्धारित करना आवश्यक होता है।"

जीवन मे सफलता के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है - लक्ष्य निर्धारण ("रोड-मैप")। बिना लक्ष्य निर्धारित किए, आगे बढ़ने का मतलब है, हमने सब कुछ किस्मत या मौके के ऊपर छोड़ दिया हैं। हमे अपने जीवन को नियंत्रित और व्यवस्थित करने के लिए एक सफलता योजना बनाने की आवश्यकता होती है। यह हमारा स्वयं का निर्णय है, इससे हमें वह हासिल करने में मदद मिलेगा, जो हम अपने जीवन से चाहते हैं। मेरे बारे में दूसरे क्या कहते हैं, वह बहुत कम मायने रखता है; मैं खुद अपने बारे मे क्या कहता हूं, वह बहुत मायने रखता है। प्रेरणा और सकारात्मक सोच हमारी सफलता के लिए आवश्यक हैं। हमारे जीवन में जो हम बनाना चाहते हैं, उसके लिए, हमें कार्य करने की आवश्यकता है।
तो क्या आप तैयार हो? क्या आप अपने जीवन को अगले स्तर पर ले जाने के लिए तैयार हैं? जो भी आप ज्ञान प्राप्त करते हैं, यह सुनिश्चित करें कि आपके वह समझ में आ गया है। जानकारी को अवशोषित करें और जो आप को समझ में आता है, उसके आधार पर अपने निर्णय खुद लें। मैं आपको अपने व्यक्तिगत अनुभव से यह बताना चाहता हुं कि - यदि आप जीवन मे कुछ बनाना चाहते हैं, तो कभी हार न मानें।
आप अपना जीवन जैसा बनाना चाहते हैं, उस राह पर चलने के लिए आपको मेरी तरफ से शुभकामनाएँ!
--- डॉ. सुनील कुमार, डी.एम. (न्यूरोलॉजी)
  • बैचलर ऑफ़ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ़ सर्जरी (एम.बी.बी.एस.) : किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (के.जी.एम.यू.), लखनऊ, उत्तर प्रदेश (भारत)
  • मेडिसिन विभाग में डॉक्टर ऑफ़ मेडिसीन (एम.डी.) : गणेश शंकर विद्यार्थी मेमोरियल (जी.एस.वी.एम.) मेडिकल कॉलेज, कानपुर, उत्तर प्रदेश (भारत)
  • न्यूरोलॉजी विभाग में सीनियर रेजिडेंट : गोविंद बल्लभ पंत (जी.बी. पंत) अस्पताल, दिल्ली (भारत)
  • न्यूरोलॉजी विभाग में सीनियर रेजिडेंट : मानव व्यवहार एवं संबद्ध विज्ञान संस्थान (इ.ह.बा.स.), दिल्ली (भारत)
  • न्यूरोलॉजी में डॉक्टरेट ऑफ मेडिसिन (डी.एम.) : सवाई मान सिंह (एस.एम.एस.) मेडिकल कॉलेज, जयपुर, राजस्थान (भारत)
  • न्यूरोलॉजिस्ट/सहायक प्रोफेसर : मेडिसीन विभाग, श्री राम मूर्ति स्मारक चिकित्सा विज्ञान संस्थान (एस.आर.एम.एस. आई.एम.एस), बरेली, उत्तर प्रदेश (भारत)
  • विकलांग बच्चों एवं मिर्गी के मरीज़ों के लिए अनेकों शिविरों का आयोजन किया और उनको मुफ्त दवाएँ और परामर्श प्रदान किया।

"तंत्रिका संबंधी रोगों से परिचित होना "विज्ञान" है, तंत्रिका संबंधी बीमारी का पहचान करना "अनुभव" है और तंत्रिका संबंधी बीमारी का उपचार करना एक "हुनर" है।

  • दौरा एवं मिर्गी रोग
  • सिरदर्द / माइग्रेन
  • लकवा (ब्रेन अटैक)
  • मस्तिष्क में रक्त स्त्राव (ब्रेन हेमरेज)
  • मस्तिष्क ज्वर (मेनिनजाइटिस / एन्सेफलाइटिस)
  • पार्किंसन रोग
  • असंतुलित चाल (अटैक्सिया)
  • भूलने की बीमारी / अल्जाइमर रोग
  • व्यवहार में परिवर्तन
  • नींद संबंधी समस्याएं
  • बेहोशी (कोमा)
  • चक्कर की बीमारी (वर्टिगो)
  • हाथ-पैरों और पीठ का दर्द
  • रीढ़ से संबंधित समस्याएं
  • मांसपेशियों की बीमारी
  • मियासथीनिया ग्रेविस
  • शरीर के किसी अंग मे शून्यपन की समस्या

सदस्यता

  • इंडियन एकेडमी ऑफ न्यूरोलॉजी
  • इंटरनेशनल हेड्एक सोसायटी
  • इंटरनेशनल चाइल्ड न्यूरोलॉजी एसोसिएशन
  • इंडियन मेडिकल एसोसिएशन

चिकित्सा शोध पत्र

▣ नेशनल जर्नल्स
▣ इंटरनेशनल जर्नल्स
  1. Paralytic rabies or postvaccination myelitis: a diagnostic dilemma. Am J Emerg Med. 2015 Apr;33(4):601.e1-3.
  2. Aggressive vertebral hemangioma in the postpartum period: an eye-opener. Oxf Med Case Reports. 2014 Oct; 2014(7):122–124.
  3. A rare association of intracranial vertebral artery fenestration with nonaneurysmal perimesencephalic subarachnoid hemorrhage. Neurol India. 2014 Sep-Oct;62(5):560-1.
  4. Reversible magnetic resonance imaging changes in a case of neuroleptic malignant syndrome. Am J Emerg Med. 2015 Aug;33(8):1113.e1-3.
  5. Vanishing splenial lesion presenting as alexia with dysgraphia. J Neurol. 2015;262(4):1058-62.
  6. Acute vertebrobasilar ischemic stroke due to electric injury. Am J Emerg Med. 2015 Jul;33(7):992.e3-6.
  7. Longitudinally extensive transverse myelitis as presenting manifestation of small cell carcinoma lung. Oxf Med Case Reports. 2015 Feb 26;2015(2):208-10.
  8. Infratentorial hemorrhagic cerebral proliferative angiopathy: A rare presentation of a rare disease. Asian J Neurosurg. 2015 Jul-Sep; 10(3): 240–242.
  9. An unusual case of dengue infection presenting with hypokalemic paralysis with hypomagnesemia. J Clin Virol. 2015 Aug;69:197-9.
  10. Purple glove syndrome occurring after oral administration of phenytoin in therapeutic doses: mechanism still a dilemma. Am J Emerg Med. 2015 Jan;33(1):123.e5-6.
  11. Ophthalmoplegic migraine with trigeminal nerve involvement. BMJ Case Reports 2013; 2013:BCR2013009630.
  12. Posterior cerebral artery stroke presenting as alexia without agraphia. Am J Emerg Med. 2014 Dec;32(12):1553.e3-4.
  13. Acute aseptic meningitis due to intravenous immunoglobulin therapy in Guillain-Barré syndrome. Oxf Med Case Reports. 2014 Oct 29;2014(7):132-4.
  14. Ocular cysticercosis with vitreous hemorrhage: a rare complication of a common disease. Springerplus. 2015 May 7;4:217.
  15. Stroke after piercing barbed wire injury: a time for introspection. J Stroke Cerebrovasc Dis. 2015 Apr;24(4):e97-e100.
  16. Anaphylaxis with intravenous immunoglobulin: a time for introspection. Am J Emerg Med. 2015 Sep;33(9):1332.e1-2.
  17. Polyneuropathy, organomegaly, endocrinopathy, M-protein and skin changes (POEMS syndrome): a paraneoplastic syndrome. Oxf Med Case Rep (2015) 2015 (3): 237-240.
  18. Kleine-Levin syndrome with comorbid iron deficiency anemia. Oxf Med Case Reports. 2015 Mar 10;2015(3):226-8.
  19. Familial segmental spinal myoclonus: a rare clinical feature of Friedreich’s ataxia. Springerplus. 2015;4:330.
  20. Acute Vertebrobasilar Territory Infarcts due to Heat Stroke. J Stroke Cerebrovasc Dis. 2015 Jun;24(6):e135-8.
  21. Medullary Hot-Cross Bun Sign in Multiple System Atrophy-Cerebellar. 2015.
  22. A rare association of tuberculous longitudinally extensive transverse myelitis (LETM) with brain tuberculoma. Springerplus. 2015; 4: 476.
  23. Cerebral proliferative angiopathy with papilledema. Clin Neurol Neurosurg. 2015 Dec;139:12-5.
  24. Intracerebral developmental venous anomaly with cavernous angioma presenting as persistent unilateral hyperkinetic movement disorder. Clin Neurol Neurosurg. 2015 Nov;138:143-6.

"रोगी की देखभाल और संतुष्टि मेरी पहली प्राथमिकता है।"

पता

ओ.पी.डी. - 15, न्यूरोलॉजी, तीसरी मंजिल
श्री राम मूर्ति स्मारक इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज
भोजीपुरा, बरेली-नैनीताल रोड, बरेली, उत्तर प्रदेश-243202

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

न्यूरोलॉजी क्या है?

न्यूरोलॉजी (स्नायु-विज्ञान) क्या है? न्यूरोलॉजी, चिकित्सा विज्ञान की वह शाखा है, जिसमे तंत्रिका संबंधी रोगों का उपचार किया जाता है। तंत्रिका तंत्र (नर्वस सिस्टम) मस्तिष्क (ब्रैन), मेरुरज्जु (स्पाइनल कॉर्ड) और इनसे निकलने वाली तंत्रिकाओं (नर्व्स) से बना होता है। तंत्रिकीय नियंत्रण एवं समन्वय का कार्य मुख्यतया मस्तिष्क तथा मेरुरज्जु के द्वारा किया जाता है। न्यूरोलॉजिस्ट (स्नायु-विशेषज्ञ) कौन होता है? न्यूरोलॉजी चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में कार्य करने वाले विशेषज्ञ को न्यूरोलॉजिस्ट कहा जाता है। न्यूरोलॉजिस्ट मस्तिष्क, मेरुरज्जु (स्पाइनल कॉर्ड), नस (नर्व्स) और उनसे संबंधी रोगों का उपचार करता है। न्यूरोलॉजिस्ट को पूरे ध्यान से रोगी के रोग से जुड़े इतिहास (मेडिकल हिस्ट्री) का अध्ययन करना पड़ता है। मरीज के सही रोग को पहचानने एवं उचित उपचार के लिए उस रोग के लक्षणों का बारीकी से विश्लेषण करना होता है। कई जाँचें (डायग्नोस्टिक टेस्ट) जैसे कि - मस्तिष्क का सी.टी. स्कैन या एम.आर.आई. तथा एलेक्ट्रोएन्सेफलोग्राम्स (ई.ई.जी.), इत्यादि सही रोग को पहचानने मे मदद करती है। न्यूरोलॉजिस्ट मेडिकल हिस्ट्री,

Secrets of Healthy & Happy Life

We are shaped by our thoughts; we become what we think. When the mind is pure, joy follows like a shadow that never leaves. Those whose minds are shaped by selfless thoughts give joy when they speak or act. Enthusiastic people are the ones who actually get things done in this world. Enthusiasm is what turns any idea into reality. And enthusiasm is linked closely with happiness. The seven blunders that human society commits and cause all the violence: wealth without work, pleasure without conscience, knowledge without character, commerce without morality, science without humanity, worship without sacrifice, and politics without principles. Taking control of your well being is of utmost importance because the soundness of your body and mind is your most valuable asset. A sign of wholeness in your body and mind is shown in your vitality and high energy level to accomplish any task or goals. You can improve or maintain your personal well being by practicing some common sense: 1

Patient Care

Introduction The neurophysician (neurologist) is able to treat disorders of brain, spinal cord and peripheral nerves. Now a days advance research in the field of neurology provide cutting-edge treatments for the patient. Patient Care Plan The neurology center should provide a unique blend of personalized care and cutting-edge research. Neurologist, rehabilitation center and nursing staff should be well trained for neurology patient care. This integrated approach is instrumental for the improving outcomes in the treatment of Parkinson's disease, multiple sclerosis (MS), stroke, Alzheimer’s disease, and other neurological disorders. Neurology Center The Center should be composed of a multidisciplinary team of medical doctors including neurologists, neurosurgery, psychiatrists and physician. Using an innovative, integrated approach to brain and behavior, the Center focuses on optimizing cognitive performance, including comprehensive diagnosis and customized manageme